September 28, 2021

Month: February 2021

निराली साहित्यिक नगरी मैनपुरी -राजेंद्रनाथ अग्निहोत्री छोटा सा मैनपुरी नगर, शांति, आत्म-तुष्ट, कहीं कोई हड़बड़ी नहीं। आबादी बीस-पच्चीस हजार से अधिक नहीं थी। सब एक दूसरे के परिचित। सारी जगह पैदल दूरी पर थी। सबसे अधिक दूरी पर चार स्थान बजरिया से लगभग तीन किलोमीटर की दूरी पर थे - रेलवे-स्टेशन, दीवानी कचहरी, कलक्ट्री कचहरी और शीतला देवी मंदिर।  दिलचस्प बात यह थी कि इन स्थानों की परस्पर दूरी भी इतनी ही यानी तीन किलोमीटर के आस-पास थी। माना जा सकता है कि ये स्थान पूरब और उत्तर दिशाओं...

ईश्वर के नाम पर कब्जाई जाती हैं धरती पर सबसे ज्यादा जमीनें, जबकि 'पृथ्वी लोक' उसका घर नहीं है। ईश्वर...

खाद्य शृंखला सूर्य से ऊर्जा लेकर पेड़-पौधे कार्बन-डाइ-ऑक्साइड और पानी की सहायता से प्रकाश संश्लेषण की प्रक्रिया द्वारा अपना भोजन...