September 28, 2021

प्रताप सिंह राणे : 7 बार मुख्यमंत्री और 50 साल से विधायक


राजनीति में कुछ नेता ऐसे होते हैं जिनकी कद्र किसी पार्टी से नहीं, बल्कि उनके कामकाज और उनके स्वभाव से उनकी पहचान की जाती है। हर पार्टी में कुछ ऐसे नेता होते हैं, जिनकी बात विरोधी तक मानते हैं। उदाहरण के लिए बीजेपी नेता अटल बिहारी बाजपेयी। बाजपेयी को हर पार्टी के नेता मानते थे और इज्जत करते थे। ऐसे ही कांग्रेस के एक नेता और गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री प्रताप सिंह राणे हैं।

भारतीय राजनीति में स्थायित्व कम और ‘आया राम गया राम’ का क्रम अधिक रहा है। बहुत कम विधायक और सांसद हैं, जिन्होंने जनता के दिलों पर राज करते हुए राजनीतिक प्रांगण में लंबी पारियां खेली हैं।  प्रताप सिंह राणे भी एक ऐसे ही राजनेता हैं, जो लगातार 50 साल से विधायक हैं और 7 बार गोवा के मुख्‍यमंत्री भी रह चुके हैं। 1980 से 2007 के बीच वह अलग-अलग समय में सात बार मुख्यमंत्री की कुर्सी संभाल चुके हैं।

राणे सातवें दशक के मध्य से भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के सदस्य रहे हैं। इससे पहले वह महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी के प्रमुख नेता थे। एमजीपी की सरकार में वह कानून मंत्री थे और 1972 की शुरुआत में उन्होंने अन्य विभागों को भी संभाला था। 1990 से लेकर 2005 तक राज्य में बीजेपी की सरकार रही तो राणे मुख्य विपक्षी नेता की भूमिका में रहे।

पहली बार 1980 में सीएम बने
1980 में गोवा में कांग्रेस की पहली जीत के बाद राणे मुख्यमंत्री बने। यह पद उनके लिए आसान नहीं था। गोवा कांग्रेस के दो बड़े नेता डॉ. विल्फ्रेड डी सूजा और अनंत नारायण नाइक के बीच काफी संघर्ष हुआ। ये दोनों कांग्रेस के शीर्ष नेता थे। नाइक को बाद में राज्य की राजनीति में बड़े पैमाने पर हाशिए पर रखा गया, जबकि सूजा ने अपने कुछ मंत्रिमंडलों में राणे के अधीन काम किया। यह रिकॉर्ड अभी तक सिर्फ प्रताप सिंह राणे के पास है, जो अलग-अलग समय में सात बार मुख्यमंत्री की कुर्सी संभाल चुके हैं।

पीएम मोदी ने की तारीफ
हाल ही में राणे ने अपने विधायकत्व के 50 साल पूरे किए हैं। इस अवसर पर मोदी ने ट्वीट किया, ‘प्रताप सिंह राणे जी को विधायक के रूप में 50 साल पूरे करने की उनकी महत्वपूर्ण उपलब्धि पर बधाई।’ उन्होंने कहा, ‘जनता की सेवा और गोवा की प्रगति के लिए उनका (राणे) उत्साह उनके कार्य में झलकता है। मुझे उनके साथ अपनी चर्चाएं याद हैं जब हम दोनों अपने-अपने राज्यों के मुख्यमंत्री थे।’

गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने ट्वीट कर राणे को बधाई दी। सावंत ने ट्वीट करते हुए लिखा कि विधायक के रूप में 50 साल पूरे करने पर गोवा के पूर्व सीएम श्री प्रतापसिंह रावजी राणे को हार्दिक बधाई। सामाजिक कार्य और राजनीति में उनका विशाल अनुभव सभी के लिए प्रेरणा है। उनके सभी भविष्य के प्रयासों में उन्हें अच्छे स्वास्थ्य और शुभकामनाएं।